Download Image

 Please wait while your url is generating... 3
Gulzar Shayari

Gulzar Shayari in Hindi

Gulzar Shayari in Hindi: Who would not know Gulzar Sahab well? Gulzar sahib is a great writer who has left a different mark on this whole world. The poetry and ghazals written by Gulzar Sahab are famous all over the world, and today we have brought you the best poetry of Gulzar Sahab, which you can also share on Whatsapp, Facebook, and Instagram.

गुलजार साहब को भला कौन नहीं जानता होगा। गुलजार साहब एक महान लेखक हैं जिन्होंने इस पूरी दुनिया पर एक अलग छाप छोड़ी है। गुलज़ार साहब की लिखी शायरी और ग़ज़लें पूरी दुनिया में मशहूर हैं और आज हम आपके लिए गुलज़ार साहब की बेहतरीन शायरी लेकर आए हैं, जिन्हें आप Whatsapp, Facebook और Instagram पर भी शेयर कर सकते हैं.

New Gulzar Shayari

Gulzar Shayari

पतझड़ में सिर्फ पत्ते
गिरते है नजरों से गिरने
का कोई मौसम नहीं
होता. !!

Gulzar Shayari in Hindi

अब क्यों लगती है मुझे
ठोकरे पापा अब तो
चप्पल भी में सीधी
पहनता हूं..!!

Gulzar Shayari on Life

वास्ता नही रखना तो
नजर क्यो रखते हो किस
हाल में जिंदा हूं खबर
क्यो रखते हो.!!

Gulzar Shayari Motivational

हालातों ने खो दी चेहरे
की मुस्कान वरना जहां
बैठते थे रौनक ला दिया
करते थे

Gulzar Shayari

आँखें भी खोलनी पडती है साहब
उजाले के लिए केवल सूरज के
निकलने से ही अंधेरा नहीं चला
जाता है. !!

Gulzar Shayari in Hindi

कहने को शब्द नहीं
लिखने को भाव नहीं दर्द
तो हो रहा है पर दिखाने
को घाव नही. !!

Gulzar Shayari Motivational

शाम होते ही मन में एक
सवाल उठता है आज
दिन ढला है या उम्र
मेरी … !

Hindi Gulzar Shayari on Life

Gulzar Shayari on Life

बेकार जाया किया वक्त
किताबों में सारे सबक
तो कमबख्त ठोकरों से
ही सीखे है.. ।।

Gulzar Shayari Love

अच्छे लोग बहुत
सस्ते होते है
बस मीठा बोलो
और खरीद ली..!!

Gulzar Shayari images

कुछ लोग मेरे शब्दों से मेरे
अंदर देखना चाहते हैं नादान
है वो किनारो पे बैठकर समंदर
देखना चाहते है. !!

Gulzar Shayari

मुस्कुराहट दिखी पर आँखों
की नमी न दिखी दिल दुखाने
वालो को कभी अपनी कमी न
दिखी. !!

Gulzar Shayari Love

मत पूछो केसे गुजरता है हर
पल तुम्हारे बिना कभी बात
करने की हसरत तो कभी
देखने कि तमन्ना ..!!

Gulzar Shayari Zindagi

छोड़ना चाहो तो कमियां
बहुत है मुझसे साथ निभाना
चाहो तो खूबियां भी कम
नही . ! !

Gulzar Shayari

क्या पता की मोहब्ब्त ही
हो जायेंगी हमे तो बस तेरा
मुस्कुराना अच्छा लगा था. !!

Gulzar Famous Shayari in Hindi

Gulzar Shayari Khamoshi

हम समझदार भी इतने है कि
उनका झूठ पकड़ लेते हैं और
उनके दीवाने भी इतने है फिर
भी यकीन कर लेते है. !!

Gulzar Shayari intzaar

ना समझ है वो अभी मेरी
बात नहीं समझेगा मेरी
जगह नहीं है न मेरी हालत
नहीं समझेगा

Gulzar Shayari Yaadein

अगर पहला प्यार सच्चा
था तो दूसरा हुआ क्यों
और अगर दूसरा प्यार
सच्चा है तो पहला याद
क्यों है … !

Gulzar Shayari Rishte

बेकार जाया किया वक्त
किताबों में सारे सबक तो
कमबख्त ठोकरों से ही
सीखे है. !!

Gulzar Shayari

डर ये है कि कहीं उसे
खो ना दूसच ये है कि
कभी उसे पाया ही
नही.. !

Gulzar Shayari Waqt

अब क्या कहूं इस जिन्दगी के बारे
में एक तामसा थी जिसे उम्र भर देखा
मैने कभी बैठो अकेले में तो गिरने
लगते है आशू कुछ गम है सायद
जिन्दगी में ..!!

Gulzar Shayari in Hindi

तुमने तो कहा था हर शाम
हाल पूछेंगे तुम्हारा तुम बदल
गए हो या तुम्हारे शहर में
शाम नहीं होती. !!

Gulzar Shayari Text & images

Gulzar Shayari

ठुकरा दो अगर दे कोई
जिल्लत से समंदर इज्जत
से जो मिल जाए वह
कतरा ही बहुत है . . !

Gulzar Shayari Alfaaz

मोहब्बत बड़े कमाल की
होती है जिंदगी बदल देती
है मिल जाए तब भी ना मिले
तब भी. !!

Gulzar Shayari

किसी ने थोडा सा अपना
वक्त दिया था मुझे मेने आज
तक उसे इश्क समझ कर
संभाल रखा है

Gulzar Shayari Rishte

सोच समझ कर ही नाराज
हुआ करो अपनो से
आजकल मनाने का रिवाज
खत्म हो गया है. !!

Gulzar Shayari

ना जाने क्यू रेत की तरह
निकल जाते है हाथो से वो लोग
जिन्हें जिंदगी समझकर हम
कभी खोना नहीं चाहते.. !!

Gulzar Shayari in Hindi

हर उदासी का मसला इश्क
नही होता जिंदगी और
परिवार की उलझने इंसान
को उदास होने पर मजबूत
कर देती है..!!

Gulzar Shayari

खुशियां पराई होती है सब
में बाटं दी जाती है दर्द सिर्फ
अपने होते है दिल में रखते
पडते है. !!

गुलज़ार साहब शायरी हिंदी में

Gulzar Shayari in Hindi

अजीब किस्सा है जिन्दगी का
कमबख्त एक दिन मरने के
लिए पूरी जिन्दगी जीनी पड़ती
है.. !!

Gulzar Shayari Ghazal

कभी फायदा उठाकर
थक जाओ तो अपनी
गिरी हुई सोच उठा
लेना.!!!

Gulzar Shayari

तुम्हीं ने सफर करवाया था
मोहब्बत की कश्ती पे अब
नजरे ना फेर मुझे डूबता
हुआ भी देख !!

Gulzar Shayari Bewafa

बडे ही खुशनुमा वहम थे कि
हम उनकी जिंदगी में अहम
है. ! ! !

Gulzar Shayari Waqt

अच्छे वक्त के आने जाने का
कोई वक्त नहीं होता जो ये
बात समझ जाए उसको कभी
दर्द नहीं होता. !!

Gulzar Shayari Mohabbat

काफी पुराने जमाने का
दिल है मेरा इसे जिस्मों
वाली मोहब्बत समझ नहीं
आती. !!

Gulzar Shayari Waqt

ढूंढ ही लेते उनको हम भी
शहर में इतनी भीड भी न थी
साहब पर रोक दी तलाश हमने
क्योंकि वो खोये नहीं बदल
गए थे. !!

4 Line Gulzar Shayari in Hindi

Gulzar Shayari

जाने वाले को जाने
दीजिये आज रुक भी
गया तो कल चला
जायेगा. !

Gulzar Shayari in Hindi

गलती उसकी नहीं उसके चाहने
वाले मुझसे बेहतर थे कुछ
सूरत में खास कुछ रुतबे में
अच्छे थे. !!

Gulzar Shayari Mohabbat

प्रेम सब्र है सौदा नहीं
इसलिए हर किसी से होता
नहीं . ! !

Gulzar Shayari Yaadein

मेरी बातो से बहुत तकलीफ
थी उन्हें उम्मीद है मेरी खामोशी
से सुकून मिला होगा . ! !

Gulzar Shayari Bewafa

सिर्फ जहर ही मौत नहीं
देता कुछ लोगों की बाते भी
काफी होती है. !!

Gulzar Shayari

बहुत नुक्स निकालते है वो
इस कदर हम में जैसे खुदा
चाहिए था और हम तो इंसान
निकले.. !

Gulzar Shayari in Hindi

फितरत तो कुछ यूं भी
है इंसान की बारिश खत्म
हो जाए तो छतरी भी बोझ
लगती है. !!

Gulzar Shayari On Zindagi

Gulzar Shayari

लोगो को खुश रखते
रखते हमारी खुशी ने
खुदखुशी कर ली. !!

Gulzar Shayari intezaar

किसी की आदत लगने में
वक्त नही लगता मगर आदत
को खत्म करने में जिंदगी
गुजर जाती है..!

Gulzar Shayari on Life

हँसना हँसाना आता है मुझे
मुझसे गम की बात नहीं होती
मेरी बातों का मजाक होता
है लेकिन मेरी हर बात मजाक
नहीं होती. !!

Gulzar Shayari

अजीब सी दुनिया है ये
साहब यहां लोग मिलते कम
और एक दूसरे में झांकते
ज्यादा है. !!

Gulzar Shayari Rishte

ठीक हूं ये तो हम किसी से
भी कह सकते है लेकिन
परेशान हूं कहने के लिए
कोई बहुत ही खाश होना
चहिए . ! !

Gulzar Shayari

किसी ने थोडा सा अपना
वक्त दिया था मुझे मेने आज
तक उसे इश्क समझ कर
संभाल रखा है

Gulzar Shayari in Hindi

बात बात पर भीग
जाती जिनकी आखें वह
कमजोर नही बल्कि
साफ दिल के होते है. !!

Beautiful Gulzar Shayari lyrics

Gulzar Shayari love

किसी से दिल लग जाए
वह मोहब्बत नहीं है
किसी के बगैर दिल ना
लगे वह मोहब्बत है..!!

Gulzar Shayari

बहुत करीब से देखा
है मैने तुम्हें दूर जाते
हुए… !

Gulzar Shayari on Life

गलती उसकी नहीं उसके चाहने
वाले मुझसे बेहतर थे कुछ
सूरत में खास कुछ रुतबे में
अच्छे थे. !!

Gulzar Shayari Rishte

रिश्ते कब तक निभाता
में आखिर अकेला ही
थोडा एहसास तो सामने
वाले को भी होना चाहिए…..

Gulzar Shayari Bewafa

दिल में खोट है जुबान
से प्यार करते है बहुत
से लोग दुनिया में यही
प्यापार करते है…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *